नई दिल्ली. फोटो शेयरिंग ऐप इंस्टाग्राम (Instagram) के टॉप एग्जीक्यूटिव बुधवार को युवा यूजर्स पर फोटो शेयरिंग ऐप के प्रभाव को लेकर अमेरिकी सीनेटरों (Senators) के साथ भिड़ गए. इस सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों के सांसदों ने सोशल मीडिया ऐप की सख्त सरकारी निगरानी की बात कही.

फेसबुक की कंपनी इंस्टाग्राम के हेड एडम मोसेरी ने जोर देकर कहा कि कई युवा यूजर्स पाते हैं कि इंस्टाग्राम उनके जीवन को बेहतर बनाता है. उन्होंने कहा, ”मुझे युवा लोगों को सुरक्षित रखने में मदद करने, संघर्ष कर रहे युवाओं का समर्थन करने और अपने किशोरों को स्वस्थ और सुरक्षित ऑनलाइन हैबिट को विकसित करने में मदद करने के लिए माता-पिता को सशक्त बनाने के लिए हमारे काम पर गर्व है.”

कंज्यूमर प्रोटेक्शन पर सीनेट कमिटी के सदस्यों ने द वॉल स्ट्रीट जर्नल द्वारा प्रकट किए गए आंतरिक दस्तावेजों का हवाला देते हुए एक अलग बात कही, जिसमें दिखाया गया है कि इंस्टाग्राम को किशोरों में चिंता और अवसाद में वृद्धि के लिए दोषी ठहराया जाता है. कई सीनेटरों ने अपने स्वयं के ऑफिस द्वारा बनाए गए इंस्टाग्राम अकाउंट की ओर इशारा किया जो बार-बार हार्मफुल कंटेंट की ओर धकेलते हुए दिखाई देते हैं.

ये भी पढ़ें- Amazon के सर्वर में आई तकनीकी खराबी, शॉपिंग से लेकर प्राइम वीडियो सब रुका, यूजर्स हुए परेशान

पैनल के टॉप रिपब्लिकन सेन मार्शा ब्लैकबर्न (आर टेन) ने कहा, ”मैं बस थोड़ा निराश हूं. पैरेंट आप से सुनते हैं कि बदलाव आ रहा है, चीजें अलग होने जा रही हैं. लेकिन कुछ नहीं बदलता. कुछ नहीं.”

कुछ सांसदों के इस दावे पर कि कंपनी के सोशल मीडिया प्रोडक्ट अडिक्टिव हैं, एडम मोसेरी ने कहा, ”हमारा एक ही लक्ष्य है. हम सभी चाहते हैं कि किशोर ऑनलाइन सुरक्षित रहें.” कुछ सांसदों ने इंस्टाग्राम के हेड से ऐप में कुछ जरूरी बदलाव करने को कहा है.

Tags: Instagram, Social media





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here