नई दिल्ली। बीते कुछ दिनों से कांग्रेस और टीएमसी के बीच जुबानी जंग जारी है। ममता बनर्जी कई मौकों पर कांग्रेस पर निशाना साध चुकी हैं। हाल ही उन्होंने अपने मुंबई दौरे के समय कांग्रेस को लेकर बड़ा बयान दिया था। ममता बनर्जी ने कहा कि अब देश में यूपीए जैसा कुछ नहीं बचा है। वहीं अब कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने ममता बनर्जी पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता का कहना है कि गोवा विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी अप्रत्यक्ष रूप से भारतीय जनता पार्टी का समर्थन कर रही हैं। अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस खुद को नया विपक्षी पार्टी बताकर गोवा में बीजेपी को सपोर्ट कर रही है। ऐसा कर टीएमसी गोवा चुनाव में बीजेपी के लिए रास्ता बना रही है।

कांग्रेस नेता का कहना है कि टीएमसी जो कर रही है उसका फायदा बीजेपी को मिलेगा। बीजेपी को इस फेडरल फ्रंट के बनने से फायदा होगा। इस दौरान उन्होंने टीएमसी पर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा कि वो यह सोचती हैं कि गोवा में कांग्रेस प्रदर्शन नहीं कर पाएगी, लेकिन वो भूल गई हैं कि कांग्रेस ने उन्हें केंद्रीय मंत्री बनने में मदद की थी।

बता दें कि अधीर रंजन चौधरी का यह बयान पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम के उस बयान के बाद आया है, जिसमें कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने भाजपा के खिलाफ संगठित विपक्ष की वकालत की थी। दरअसल, चिदंबरम ने कहा था कि ममता बनर्जी का अप्रोच अलग है और हमारा अप्रोच अलग है। अगर यह दोनों अप्रोच मिल जाएं देश के लिए अच्छा होगा।

यह भी पढ़ें: Bandipora Attack: बांदीपोरा में पुलिस की टीम पर आतंकवादी हमला, 2 जवान हुए शहीद

वहीं दूसरी ओर गोवा बीजेपी अध्यक्ष सदानंद सेठ ने राज्य में टीएमसी कार्यकर्ताओं की एंट्री को खतरे की घंटी बताते हुए आगाह किया। इसके साथ ही उन्होंने ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी को खूनी मानसिकता की पार्टी बताया। सदानंद सेठ ने कहा कि वो खूनी सोच के हैं और जो लोग इस पार्टी में शामिल हो रहे हैं वो अपनी इच्छा के खिलाफ उनके पास जा रहे हैं।

गौरतलब है कि ममता बनर्जी बीते कुछ दिनों से कांग्रेस से नाराज चल रही हैं। कुछ दिनों पहले उन्होंने कहा था कि अब जब पांच राज्यों में चुनाव होने हैं और कांग्रेस को विपक्ष का धर्म निभाना है तो वह कोई फैसला नहीं ले रही हैं। अगर बीजेपी को हराना है तो सभी पार्टियों को साथ आना होगा।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here