औरंगाबाद: कोविड केयर सेंटर में एक महिला के साथ बलात्कार की कोशिश के मामले को लेकर बीजेपी ने महाराष्ट्र विधान सभा में जमकर हंगामा किया. गुरुवार को विधान सभा में BJP ने राज्य में कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठाए और उद्धव सरकार पर जमकर निशाना साधा. 

बीजेपी के हंगामे पर राज्य के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा कि मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं. इस मामले में दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.  

डॉक्‍टर पर है आरोप

औरंगाबाद के एक कोविड सेंटर में एक महिला के साथ बलात्कार की कोशिश की गई थी. इसका आरोप वहीं के एक डॉक्टर पर लगा है. सरकारी कोविड सेंटर में महिला को 10 दिन के लिए रखा गया था, लेकिन महिला ने अपने ठीक होने की बात कहकर 8वें दिन डॉक्टर से छुट्टी मांगी. छुट्टी की बात करने के लिए डॉक्टर ने महिला को अपने केबिन में बुलाया और उससे जबरदस्ती करने को कोशिश की. ये मामला सामने आने के बाद डॉक्टर को सस्‍पेंड कर दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है. 

उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने दिया ये जवाब

ये मामला जब गुरुवार को विधान सभा में भी उठा तो इसका जवाब देते हुए राज्य के उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने कहा कि ये घटना हमारे सामने आई है. हालांकि बलात्कार की पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन हमने कार्रवाई करते हुए डॉक्‍टर को नौकरी से बर्खास्त किया है. मामले की जांच जारी है. वहीं महिला ने भी मामला दर्ज कराने से मना किया और वह चाहती है कि उनका नाम कहीं पर न आए. ये भी सामने आया है कि महिला के पति और आरोपी डॉक्टर दोस्त हैं. 

ये भी पढ़ें- बंगाल चुनाव: शिवसेना के चुनाव लड़ने पर संजय राउत ने दिया बड़ा बयान, कही ये बात

फडणवीस बोले, सरकार मामले पर गंभीर नहीं  

दूसरी तरफ औरंगाबाद की घटना को लेकर बीजेपी नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने तीखी प्रतिक्रिया दी. फडणवीस ने कहा कि सरकार को इस मामले की जांच करानी चाहिए और सदन को पूरी घटना के बारे में बताना चाहिए.

फडणवीस ने कहा कि ये सरकार गंभीर नहीं है.  राज्य के मुख्यमंत्री को पत्र देने के बाद भी महिलाओं के कोविड सेंटर में बलात्कार और छेड़छाड़ की घटनाएं हो रही है तो न्याय किसके पास जाकर मांगा जाए, सरकार इस मामले में कड़ी कार्रवाई करे. साथ ही क्या कार्रवाई की गई , इसके बारे में सदन को अवगत कराए. 

उस्मानाबाद में महिला ने फांसी लगाकर की आत्‍महत्‍या

इस बीच महाराष्ट्र के उस्मानाबाद शहर के हनुमान चौक इलाके में शादीशुदा महिला ने फांसी की फंदे के झूलकर खुदकुशी कर ली. खुदकुशी के पहले महिला ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है जिसमें लिखा है कि उसके साथ एक पुलिसवाले ने बंदूक दिखाकर बलात्कार किया. महिला ने अपने सुसाइड नोट मे हरिभाउ कोलेकर नाम के शख्स का नाम लिया है. ये हेड कांस्‍टेबल बताया जा रहा है.  मामले के सामने आने के बाद पुलिस उसे हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.  ये मामला भी विधानसभा में उठाया गया है.

इनपुट: विशाल कारोले  दीपक भातुसे 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here