डिजिटल डेस्क, सियोल। नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की एक नई तस्वीर सामने आई है। इस तस्वीर के बाद कीम जोंग की हेल्थ को लेकर एक बार फिर अटकले लगना शुरू हो गई है। नई तस्वीर में किम जोंग थोड़े स्लिम नजर आ रहे हैं। किम जोंग की हेल्थ सियोल, वॉशिंगटन, टोक्यों और दुनिया की अन्य राजधानियों के लिए मायने रखती है क्योंकि अब तक उसने अपना अत्तराधिकारी घोषित नहीं किया है जो उसके एडवांस न्यूक्लियर प्रोग्राम को कंट्रोल करेगा।

स्टेट मीडिया की तस्वीरों से पता चलता है कि किम ने बड़ी मात्रा में वजन कम किया है। उसकी फैंसी घड़ी का पट्टा टाइट है और उसका चेहरा पतला। कुछ पर्यवेक्षकों का कहना है कि किम का लगभग 10-20 किलोग्राम (22-44 पाउंड) वजन कम हुआ है। 170 सेंटीमीटर (5 फीट, 8 इंच) लंबे किम का वजन पहले 140 किलोग्राम (308 पाउंड) था। सियोल के कोरिया इंस्टीट्यूट फॉर नेशनल यूनिफिकेशन के एक वरिष्ठ विश्लेषक होंग मिन के अनुसार, किम का वजन कम होना बीमारी के संकेत के बजाय उनके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने का प्रयास है।

होंग ने कहा, अगर उन्हें किसी तरह की हेल्थ प्रॉबलम होती, तो वे वर्कर्स पार्टी की सेंट्रल कमिटी की प्लेनरी मीटिंग बुलाने के लिए सार्वजनिक रूप से सामने नहीं आते। बता दें कि ये पॉलिटिकल कॉन्फ्रेंस इस हफ्ते शुरू होनी है जिसके दो से तीन दिनों तक चलने की उम्मीद है। 

शराब पीने और धूम्रपान के लिए जाने जाने वाले किम एक ऐसे परिवार से आते हैं, जिनका हर्ट प्रॉबलर का इतिहास है। उनके पिता और दादा, जिन्होंने उनसे पहले उत्तर कोरिया पर शासन किया था, दोनों की हृदय रोग से मृत्यु  हुई थी। ऐसे में कुछ एक्सपर्ट्स ने कहा है कि उनका कम वजन हृदय रोगों की वजह से हो सकता है।

साउथ कोरिया के यूनिफिकेशन मिनिस्ट्री ने कहा कि उनके पास किम के स्वास्थ्य के बारे में शेयर करने के लिए कोई जानकारी नहीं है। वहीं सियोल स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ नॉर्थ कोरियन स्टडीज में सेओ यू-सोक ने कहा कि यदि किम एक स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है और ऐसी स्थिति में है जिसमें वह अपनी राय व्यक्त नहीं कर सकता है, हालांकि वह मरा नहीं है, तो फर्स्ड सेक्रेटरी के नाम का निर्णय कौन करेगा?

जब पिछले साल अपने दिवंगत दादा के जन्मदिन के स्मरणोत्सव में किम शामिल नहीं हुआ था तब भी उसकी हेल्थ को लेकर पूरी दुनिया में अटकलें तेज हो गईं थी। उस समय कुछ एनालिस्टों ने अनुमान लगाया था कि किम की छोटी बहन, किम यो जोंग, अपने भाई की सत्ता संभालेगी। दूसरों ने कहा कि सामूहिक नेतृत्व भी संभव है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here