बैंकों को उन खातों की वार्षिक समीक्षा करनी होगी, जिनमें एक वर्ष से अधिक समय से कोई लेनदेन नहीं हुआ है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here