Publish Date: | Sat, 11 Dec 2021 08:27 AM (IST)

Saryu Canal National Project Update: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार (11 दिसंबर, 2021) को उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में दोपहर करीब 1 बजे सरयू नाहर राष्ट्रीय परियोजना का उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के अनुसार, परियोजना पर काम 1978 में शुरू हुआ था, लेकिन बजट की कमी, अंतर-विभागीय समन्वय और पर्याप्त निगरानी की कमी के कारण इसमें देरी हुई और लगभग 5 दशक बाद यह पूरा होने जा रहा है। 50 साल के लंबे इंतजार के बाद शनिवार को पीएम मोदी बटन दबाकर नौ जिलों बहराइच, गोंडा, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, गोरखपुर, महराजगंज व संतकबीरनगर को जोड़ने वाली सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना का शुभारंभ करेंगे। परियोजना का निर्माण 1971-72 में शुरू हुआ था, जो इस वर्ष पूरी हुई।

Saryu Canal National Project Update: जानिए खूबियां, किनको होगा फायदा

  • 9802 करोड़ रुपये की लागत से पूरी हुई इस परियोजना से 14 लाख 50 हजार हेक्टेयर जमीन सिचित होगी, जिसका लाभ 30 लाख किसानों को मिलेगा।
  • मुख्य नहर 350 किलोमीटर लंबी है। इससे निकली नहरों की लंबाई 6600 किमी है। पांच नदियों घाघरा, सरयू, राप्ती, बाणगंगा व रोहिणी को जोड़कर नहर बनाई गई है।
  • सिंचाई के साथ इस परियोजना से तीन जिलों की दूरी भी कम हो जाएगी। राप्ती मुख्य नहर के दोनों तरफ पक्की सड़क भी बनाई जाएगी। नहर किनारे से निकली सड़क की पटरी श्रावस्ती से सीधे सिद्धार्थनगर तक जाती है। इ
  • ससे तीन जिलों श्रावस्ती, बलरामपुर व सिद्धार्थनगर की आपस में दूरी कम हो जाएगी। अब तक श्रावस्ती से सिद्धार्थनगर 102 किलोमीटर है। इस मार्ग से यह दूरी 30 किमी कम हो जाएगी।
  • सरयू नहर परियोजना जहां किसानों को खेतों की सिंचाई के लिए मुफ्त पानी की सुविधा मिलेगी।
  • बाढ़ की त्रासदी भी कम होगी। नदियों के पानी का डायवर्जन नहरों में होने से बाढ़ का असर कम होगा।

Posted By: Arvind Dubey

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here