Smartphone Could Affect Reproductive Health Of Men: क्या आपका नाम भी उन पुरुषों में शामिल हैं जो रात दिन अपना मोबाइल अपनी जेब में डालकर घुमते रहते हैं, अगर जवाब हां में है तो यह वाकई चिंता की बात है। स्टडी के मुताबिक, मोबाइल का अधिक इस्तेमाल ना सिर्फ आपके स्वास्‍थ्य के लिए खतरनाक है बल्कि पुरुषों में नपुंसकता की समस्या भी पैदा कर रहा है। ऐसे में कई फर्टिलिटी एक्सपर्ट्स ने चेताया है कि जो शख्स एक दिन में कम से कम एक घंटा भी मोबाइल फोन इस्तेमाल कर रहा है उसका स्पर्म नष्ट हो रहा है या फिर उनके स्पर्म की क्वॉलिटी में भी भारी गिरावट आ रही है।

हेल्थ एक्सपर्ट्स मानते हैं कि अगर आप अपनी जेब में ज्यादा देर तक अपना सेलफोन रखते हैं, तो इससे आपके शरीर पर रेडिएशन से होने वाला खतरा बढ़ जाता है। यह आपके बैग में रखे मोबाइल से होने वाले नुकसान से दोगुना से लेकर सात गुना तक असर डाल सकता है। मोबाइल रेडिएशन का बुरा असर व्यक्ति के डीएनए स्ट्रक्चर पर पड़ने के साथ दिल को भी नुक्सान पहुंचता है। एक्सपर्ट की मानें तो, पेंट की जेब में मोबाइल रखने से रेडिएशन व्यक्ति की पेल्विक बोन्स को कमजोर और घनत्व को कम करती है।

हाइफा में टेक्निकल यूनिवर्सिटी के प्रफेसर मार्टिन डिर्नफेल्ड के अनुसार, स्टडी में पाया कि जिन पुरुषों को मोबाइल की तल लगी हुई थी उनमें ऐक्टिव स्विमिंग स्पर्म और उसकी क्वालिटी दोनों में भारी गिरावट आई है। इसकी वजह फोन और उसकी इलेक्ट्रोमैग्नेटिक ऐक्टिविटी के कारण स्पर्म प्रभावित हो रहा है। 

पुरुषों के स्पर्म की क्वॉलिटी में भारी गिरावट की मुख्य वजह यह भी बताई जा रही है कि ज्यादतर पुरुष अपना मोबाइल फोन अपनी थाई के पास रखते हैं। इतना ही नहीं रात को अपना मोबाइल चार्ज करते समय भी वो उसे अपने बिस्तर के पास ही रखते हैं। जनरल रिप्रोडक्टिव बायोमेडिसिन में पब्लिश हुई रिपोर्ट की मानें तो अगर आप अपना फोन बिस्तर के बगल में रखी हुई टेबल पर भी रखते हैं तब भी उसका असर आपकी स्पर्म की गुणवत्ता पर पड़ता है।  

मोबाइल के नुकसान को लेकर यूं तो कई सर्वे आ चुके हैं। जिसमें मोबाइल और इस जैसी बाकी डिवाइस का इस्तेमाल करने से आपकी बेडरूम लाइफ खराब होने की बात कही गई है। लेकिन ओहियो (यूएस) के क्लीवलैंड क्लिनिक फाउंडेशन द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार, सेल फोन के अधिक इस्तेमाल की वजह से शुक्राणुओं की संख्या के साथ वीर्य की गुणवत्ता भी कम हो जाती है। अध्ययन में सेल फोन का रोजाना 4 घंटे से ज्यादा जेब में रखने का सबंध अपरिपक्व शुक्राणुओं से जुड़ा हुआ पाया गया है। इसके अलावा, सेलफोन का अधिक उपयोग पुरुषों में प्रजनन क्षमता को बढ़ाने वाले डीएनए को भी नुकसान पहुंचाता है। कई शोधकर्ताओं ने यह भी पाया है कि मोबाइल का अधिक इस्तेमाल करने वाले मध्यम और उच्च आय वर्ग के 14 प्रतिशत जोड़ों ने गर्भधारण करने में कठिनाई का अनुभव किया है।

क्या है उपाय-
सेंट जॉर्ज हॉस्पिटल लंदन के प्रफेसर गेडिस ग्रॉजिंसकस ने कहा, पुरुषों को मोबाइल की लत से बाहर निकलने की जरूरत है। वह मोबाइल के चक्कर में अहम चीज को खो सकते हैं। इससे बचने के लिये जरूरी है कि ऑफिस आते-जाते समय मोबाइल को अपने बैग में रखें। सोते-उठते-बैठते समय भी इससे थोड़ी दूरी बनाये रखें। मोबाइल चार्ज करते समय बात करने की गलती न करें । यह सेहत के लिए कई गुना नुकसानदायक होता है। इसका सीधा असर पुरुषों के स्पर्म पर पड़ता है। 106 युवाओं पर अध्ययन करने के बाद इजराइल के वैज्ञानिकों की यह रिपोर्ट प्रीप्रॉडक्टिव बायोमेडिसिन मैग्जीन में प्रकाशित हुई है। जिसमें सलाह दी गई है कि रात को सोते समय मोबाइल को खुद से दूर रखें।

संबंधित खबरें



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here