रायपुर (छत्तीसगढ़): देश के पांच राज्यों में विधान सभा चुनावों के बीच नक्सली (Naxalite) फिर किसी बड़ी हिंसक घटना के लिए सक्रिय हो गए हैं. टॉप नक्सली कमांडर हिडमा (Hidma) और उसके सशस्त्र साथियों की छत्तीसगढ़ (Chattisgarah) के बीजापुर (Bijapur) इलाके में मूवमेंट देखी गई है. जिसके बाद नक्सल प्रभावित इलाकों में तैनात सुरक्षाबलों को काउंटर ऑपरेशन के लिए अलर्ट जारी कर दिया गया है. 

बीजापुर में हिडमा की लोकेशन ट्रेस हुई

खुफिया सूत्रों के मुताबिक बीजापुर जिले के जंगलों में हिडमा (Hidma) की लोकेशन ट्रेस हुई है. उसके साथ करीब 120 नक्सली (Naxalite) भी जंगलों में मौजूद हैं. आधुनिक हथियारों से लैस ये लोग नक्सली संगठन PLGA की बटालियन नंबर-1 से जुड़े हैं. इस बटालियन का नेतृत्व हिडमा करता है. इतनी बड़ी संख्या में नक्सलियों की मौजूदगी को देखते हुए खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट जारी किया है.

दूसरे इलाके में भी नक्सलियों का जमावड़ा

वहीं माओवादी नक्सलियों (Naxalite) का एक दूसरा ग्रुप भी बीजापुर के दूसरे इलाके के जंगल में ट्रेस हुआ है. नक्सली कमांडर चंद्रणा (Chandranna) के नेतृत्व वाले इस ग्रुप में करीब 60 से 80 नक्सली मौजूद हैं. सभी के पास आधुनिक हथियार हैं. वे भी सुरक्षाबलों पर बड़े हमले की फिराक में हैं. 

हिडमा पर 25 लाख रुपये का इनाम है

बताते चलें कि टॉप नक्सली कमांडर हिडमा (Hidma) पर 25 लाख रुपये का इनाम घोषित है. उसने घात लगाकर सुरक्षाबलों पर कई बड़े हमलों को अंजाम दिया है. छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में मार्च 2017 में सुरक्षाबलों पर हुए बड़े हमले में भी उसका हाथ माना जाता है. इस हमले में CRPF के 25 जवान शहीद हो गए थे. 

ये भी पढ़ें- नक्सली हमले को पीएलजीए ने दिया अंजाम, कमांडर हिडमा निकला मास्टरमाइंड!

महाराष्ट्र पुलिस का नक्सलियों पर एक्शन 

उधर एक अन्य घटना में महाराष्ट्र पुलिस ने नक्सलियों (Naxalite) के खिलाफ बड़ी सफलता हासिल करते हुए उसके हथियार बनाने के अवैध कारखाने को ध्वस्त कर दिया. राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बताया कि नक्सल प्रभावित गढ़चिरौली जिले में पुलिस को नक्सलियों की गतिविधि की सूचना मिली थी. इसके बाद महाराष्ट्र पुलिस ने नक्सलियों के खिलाफ 48 घंटे का Tactical Counter Offence Campaign (TCOC) शुरू किया.

गढ़चिरौली जिले में 48 घंटे चला ऑपरेशन

गृह मंत्री ने बताया कि गढ़चिरौली (Gadchiroli) जिले के अबूझमाड़ इलाके में नक्सलियों (Naxalite) ने जंगल के अंदर हथियार बनाने का अवैध कारखाना बना रखा था. खुफिया सूचना मिलने पर पुलिस के 70 जवानों और अफसरों की टीम ने इलाके में ऑपरेशन शुरू किया. ऑपरेशन के दौरान अवैध कारखाने को ध्वस्त कर दिया गया. अभियान में एक जवान पैर में गोली लगने से घायल हो गया. 

VIDEO





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here