नई दिल्ली। बिहार में इन दिनों शराबबंदी चर्चा का विषय बना हुआ है। विधानसभा में भी विपक्ष इस मुद्दे को लेकर सरकार पर हमलावर है। इसी बीच बिहार विधानसभा परिसर में शराब की खाली बोतलें मिलने से हड़कंप मच गया। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने इसको लेकर सीएम नीतीश कुमार पर हमला किया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में जब इतनी कड़ी व्यवस्था के बाद भी शराब की बोलतें मिल रही हैं तो इससे राज्य में शराबबंदी की हालत समझी जा सकती है। उन्होंने कहा कि सरकार शराबबंदी पर पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है।

तेजस्वी ने सीएम नीतीश से मांगा इस्तीफा
विधानसभा परिसर में शराब की बोलतें मिलने के बाद तेजस्वी यादव खुद उस स्थान पर पहुंचे, जहां बोलतें पड़ी थीं। वहीं इस मुद्दे पर तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार से इस्तीफे की मांग की है। उन्‍होंने कहा कि बिहार विधानसभा परिसर में कितने धड़ल्‍ले से शराब की बोतल पहुंच रही हैं। ऐसे में सीएम नीतीश कुमार को अपनी नाकामी स्वीकार कर पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

वहीं सीएम नीतीश कुमार ने इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस तरह की चीजें कतई बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। इसमें जो भी लोग शामिल हैं उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। सीएम ने विधानसभा अध्यक्ष से इस मामले में जांच का आदेश देने का आग्रह किया है। सीएम ने कहा कि इस मामले की गम्भीरता से जांच होगी, जो भी दोषी होंगे उन पर कार्रवाई होगी।

यह भी पढ़ें: सांसदों के निलंबन पर बोले राहुल गांधी, जनता के मुद्दे उठाना अपराध नहीं, कल से धरने पर बैठेंगे निलंबित सांसद

गौरतलब है कि बिहार में शराबबंदी के कई सालों के बाद भी राज्य में अक्सर शराब की तस्करी के मामले सामने आते हैं। वहीं कई बार बिहार में जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत भी हो चुकी है। दिवाली के मौके पर भी बिहार में जहरीली शराब पीने से कई लोगों की मौत हुई थी। इसके बाद से बिहार सरकार शराबबंदी को लेकर सख्त नजर आ रही है। इसके चलते राज्य में अब तक कई शराब तस्करों को गिरफ्तार किया गया है, ये अभियान अभी भी जारी है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here