एक्यूप्रेशर एक ऐसा तरीका है, जिससे आप अपने शरीर के अंगों पर कुछ पॉइंट्स दबाकर अपना वजन कम कर सकती हैं। इस बात को तो रिसर्च भी मानती है कि एक्यूप्रेशर बिंदुओं पर सही तरीके से दबाव बनाने पर आपकी थायराइड ग्रंथि उत्तेजित होती है, जिस कारण आपका मेटाबॉलिज्म तेजी से काम करता है और आपका वजन कम होने लगता है।

 

जानिए एक्‍यूप्रेशर के बारे में क्या कहते हैं शोध

 

एनसीबीआई की वेबसाइट में एक शोध का जिक्र मिलता है। रिसर्च के अनुसार एक्यूप्रेशर पॉइंट को दबाने से भोजन खाने की इच्छा नियंत्रित होती है, जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है। अन्य शोधों की मानें, तो ये एडिपोनेक्टिन के उत्पादन को बढ़ाता है। एडिपोनेक्टिन एक तरह का प्रोटीन हार्मोन होता है, जो बढ़ते वजन को नियंत्रित करने में सहायक होता है।

 

दूसरे शोध में ये कहा गया है कि एक्यूप्रेशर सिर्फ अकेले या फिर अन्य उपचारों के साथ बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) कम करने में मदद कर सकता है।

 

ओएसएमजेएमएस का शोध

 

ओपन एक्सेस मैसेडोनियन जर्नल ऑफ मेडिकल साइंसेज (open access macedonian journal of medical sciences) ने एक शोध किया। इस अध्ययन का उद्देश्य शरीर का वजन घटाना, नियमित प्रयोगशाला परीक्षणों से शरीर के एक्यूप्रेशर की प्रभावशीलता की जांच करना था।

 

 

कैसे किया गया अध्‍ययन

 

ये अध्ययन 80 मोटे रोगियों पर किया गया था। उन्हें उनके बॉडी मास इंडेक्स के अनुसार तीन समूहों में बांटा गया था। विषयों को कम कैलोरी आहार के साथ संयोजन में तीन से छह महीने के लिए एक्यूप्रेशर दिया गया।

 

निष्कर्ष में यह सामने आया कि एक्यूप्रेशर की प्रक्रिया से उन लोगों को वजन कम करने और सूजन संबंधी समस्याओं को कम करने में मदद मिली।

 

तो आइए जानते है एक्यूपॉइंट को दबाने का सही तरीका जिससे वजन कम होता है

 

1 शुईगो स्पॉट

 

अपने होंठ के ऊपर और नाक के नीच बीच वाली जगह को शुइगौ स्पॉट कहते हैं। सबसे पहले नाक और अपर लिप के बीच के हिस्से पर उंगली रखें उसे करीब दो से तीन मिनट गोलाकार में उंगली को दबाते हुए इस पॉइंट पर घुमाती रहें। इससे वजन कम होता है।

 

2 टखनें

 

इसे आप एक्सरसाइज के बाद कर सकती हैं। इससे शरीर रिलैक्स होता है और थकान दूर होती है। दो उंगली को इस पॉइंट पर रखें। ये पॉइंट पैर के बाहर की साइड 5 सेमी ऊपर होता है। इसे आप अपने अंगूठे के माध्यम से रोजाना 1 मिनट धीमे से दबा सकती हैं। आप दो से तीन मिनट तक उस बिंदु पर गोलाकार मालिश कर सकती है। ठीक इसी तरह से दूसरे पैर पर भी करें। इससे भी यकीनन वजन कम होता है।

 

leg

 

3 नाभि

 

ये प्रेशर पॉइंट नाभि से करीबन चार इंच ऊपर होता है। रिसर्च में कहा गया है एक्यूप्रेशर पॉइंट को दबाने से कमर व पेट की चर्बी कम होती है और इससे शरीर में वसा की दर में सुधार होता है। अपनी दो उंगली प्रेशर पॉइंट पर रखें, फिर हल्का जोर लगाते हुए उस हिस्से को दबाएं। उसके बाद आप उस हिस्से में दो मिनट तक गोलाकार में मालिश कर सकती हैं।

 

इसे भी पढ़े-मोटापा कम करना चाहती हैं, तो इन 5 सुपरफूड्स को करें अपनी डाइट लिस्‍ट में शामिल

 

4 कान

 

आपको बता दें कि कान के एक पॉइंट को दबाकर भूख नियंत्रित की जा सकती है। ये बिंदु कान के बाहरी त्रिकोणीय हिस्से में स्थित होता है। अपनी एक उंगली को प्रेशर पॉइंट पर हल्का जोर लगाते हुए दबाए और 1 मिनट तक अपने मुंह को खोले और बंद करें। ऐसे दूसरे कान में भी करें ऐसा करने से आपको लाभ जरूर मिलेगा।

 

इसे भी पढ़े-एक्सरसाइज करने पर भी कम नहीं हो रही पेट की चर्बी, तो हलासन कर सकता है आपकी मदद

 

5 अंगूठा

 

अंगूठे और अंगुली के बीच एक पॉइंट होता है। जिससे आपकी थायराइड ग्रंथि उत्तेजित होती है जिस कारण आपका मेटाबॉलिज्म तेजी से काम करता है। जिससे आपका वजन घटता है। तो इसके लिए आपको थोड़े समय के लिए प्रेशर पॉइंट को दबाना होगा। फिर 1-2 मिनट तक आपको गोलाकार में मालिश करनी होगी और ठीक यही प्रोसेस दूसरे हाथ में भी करना होगा।

 

पर इस बात का ध्‍यान रखें कि एक्‍यूप्रेशर एक कौशलपूर्ण शैली है। गलत तरीके से एक्‍यूप्रेशर करने से आपको मांसपेशियों में दर्द का सामना भी करना पड़ सकता है। इसलिए जरूरी है कि शुरुआत में इसे किसी कुशल प्रशिक्षक के निर्देशन में ही करें।

 

इसे भी पढ़ें-ये 5 कारण बताते हैं कि गर्मियों में सबसे आसान है वेट लॉस करना

 

 

 

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here