डिजिटल डेस्क, मुम्बई।  रिलायंस पावर लिमिटेड के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर की बैठक में 59.5 करोड़ इक्विटी शेयर के प्रेफरेंशियल इशू को जारी करने पर अपनी सहमति दे दी। साथ ही, 73 करोड़ कन्वर्टिबल वारंट को कंपनी ने उतने  ही शेयर को 10 रूपये के मूल्य पर ऋण में कन्वर्शन करने की अनुमति दी, जो लिस्टेड प्रमोटर कंपनी, रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर  लिमिटेड के लिए कुल 1,325 करोड़ रूपये की राशि होगी।    
इसके कारण रिलायंस पॉवर का स्टैंड अलोन ऋण घटकर 1,325 करोड़ रूपये हो जाएगा और सहयोगी कंपनियों के साथ नियोजित ऋण में कमी के कारण रिलायंस पॉवर का समेकित ऋण वित्त वर्ष 1922 में घटकर 3200 रूपये हो जाएगा . रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्टर और रिलायंस पावर की दूसरी प्रमोटर होल्डिंग में इक्विटी शेयर के जारी होने के बाद 25% की बढ़ोतरी होगी और वारंट के कन्वर्शन के बाद इसमें 38% की वृद्धि होगी जिसका फायदा आठ लाख शेयर धारकों को होगा। बोर्ड ने सदस्यों को आधिकारिक रूप से कुछ तथ्य जारी करने का निर्णय लिया है। विदेशी मुद्रा का कन्वर्टिबल बॉन्ड और मान्यता प्राप्त संस्थानों के प्लेसमेंट द्वारा जारी सिक्योरिटीज। इन बातों के लिए बोर्ड ने पोस्टल बैलट के माध्यम से कंपनी के सदस्यों की संस्तुति को मान्यता दे दी। इन सभी विषयों को लेकर आवश्यक अनुमति, संस्तुति और मान्यता की जरूरत आवश्यकता के अनुसार होगी। 
 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here