राजस्थान हाईकोर्ट ने एक मामले में फैसला सुनाया कि प्रस्तावित जांच की आड़ में किसी को भी लंबे समय तक सस्पेंड नहीं रखा जा सकता।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here