Health Benefits Of Coriander Leaves Tea: खाने के साथ चटनी परोसनी हो या फिर उसका स्वाद बढ़ाना हो, दोनों ही काम धनिया पत्ती के बिना अधूरे से हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं धनिया पत्ती का इस्तेमाल सिर्फ इन दो कामों के लिए ही नहीं बल्कि सेहत से जुड़े कई फायदे पाने के लिए भी किया जा सकता है। आइए जानते हैं कैसे धनिया पत्ती से बनी चाय पीने से व्यक्ति को मिलते हैं कौन से गजब के फायदे और क्या है इसे बनाने का सही तरीका।  

धनिया पत्ती की चाय पीने से मिलने वाले फायदे- 

सांसों की बदबू से छुटकारा –
धनिया पत्ती की चाय पीने से व्यक्ति को सांसों की बदबू से छुटकारा मिल सकता है। यह चाय न सिर्फ मुंह की बदबू दूर करने में मदद करती है बल्कि दांतों और मसूड़ों को भी मजबूती प्रदान करती है।

पाचन क्रिया में सुधार-
धनिया पत्तियों में फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो पाचन क्रिया में सुधार करके व्यक्ति को कब्ज की समस्या से छुटकारा दिलाने और पाचन को सुचारु करने में मदद करते हैं। 

मेटाबॉलिज्‍म बूस्ट-
धनिया पत्ती की चाय पीने से पीने से शरीर का मेटाबॉलिज्‍म बूस्ट होता है और पेट लंबे समय तक भरे होने का अहसास करता है। जिससे व्यक्ति को ज्यादा खाना खाने की क्रेविंग नहीं होती और आंतों को खाना पचाने के लिए भी पर्याप्त समय मिल जाता है।

तुरंत दूर होती है थकान –
धनिया पत्ती की चाय पीने से व्यक्ति की थकान तुरंत दूर होती है। इन पत्तियों में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पार्किंसंस, अल्जाइमर और मल्टीपल स्केलेरोसिस सहित मस्तिष्क की कई बीमारियों से निजात पाने में मदद करते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर और दिमाग को तनाव मुक्त रखने में भी मदद करते हैं। 

कैसे बनाएं धनिया पत्तियों की चाय-
धनिया पत्तियों की चाय बनाने के लिए आवश्यक सामग्री-

-धनिया की पत्तियां -50 ग्राम
-पानी -4 कप
-शहद -1 चम्मच
-नींबू -1/2

धनिया पत्तियों की चाय बनाने का तरीका-
धनिया की पत्तियों की चाय बनाने के लिए सबसे पहले पत्तियों को अच्छी तरह से साफ कर लें। अब एक बर्तन में पानी उबालें और उसमें ये पत्तियां डालें। लगभग 5 मिनट तक पानी उबलने दें और गैस धीमी रखें। जब पानी लगभग आधा रह जाए तब इसे छान लें और इसमें नींबू का रस और शहद मिलाकर इसका सेवन करें।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here