Publish Date: | Wed, 01 Dec 2021 04:02 PM (IST)

Astrology: शास्त्रों में माथे पर तिलक लगाना शुभ माना गया है। कुछ लोग प्रतिदिन इसका प्रयोग करते हैं। वहीं कुछ खास जातक किसी खास मौके या मंदिर जाने पर तिलक लगाते हैं। हिंदू धर्म में तिलक लगाना लाभदायक माना गया है। ज्योतिष में भी इसके कई फायदे बताए गए हैं। तिलक लगाने से एक अच्छी ऊर्जा का संचार होता है। जिससे जीवन में तरक्की मिलती है। माना जाता है कि राशि अनुसार तिलक लगाने से इसका फल ओर अधिक बढ़ जाता है। वहीं ग्रहों के बुरे प्रभाव से राहत मिलती है। आइए जानते हैं किस राशिवालों को कौन-सा तिलक लगाना चाहिए।

मेष (Aries)

मेष राशिवालों को लाल चंदन या कुमकुम का तिलक लगाना चाहिए। आपके राशि का स्वामी मंगल ग्रह है। इसका संबध लाल रंग है। इस कलर के तिलक लगाने से सभी कार्य में सफलता मिलती है।

वृषभ (Taurus)

वृषभ राशि का स्वामी गृह शुक्र है। इस राशिवालों को सफेद चंदन का तिलक लगाना चाहिए, क्योंकि शुक का संबध सफेद रंग से है।

मिथुन (Gemini)

मिथुन राशि के जातकों को अष्टगंध का तिलक लगाना शुभ लगाना चाहिए। इस राशि का स्वामी बुध ग्रह है।

कर्क (Cancer)

कर्क राशिवालों पर चंद्र ग्रह की दृष्टि रहती है। ऐसे में इस राशि के जातकों को सफेद चंदन का तिलक लगाना चाहिए।

सिंह (Leo)

सिंह राशिवालों का सूर्य मजबूत होता है। आपके लिए लाल रंग का तिलक लगाना शुभ होता है।

कन्या (Virgo)

कन्या राशि वालों को रक्त चंदन का तिलक माथे पर लगाना चाहिए। यह आपको आर्थिक समृद्धि प्रदान करेगा।

वृश्चिक (Scorpio)

वृश्चिक राशि के स्वामी ग्रह मंगल है। आपको लाल सिंदूर का तिलक लगाना चाहिए।

धनु (Sagittarius)

इस राशि का स्वामी बृहस्पति ग्रह है। आपको पीला चंदन या हल्दी का तिलक लगाना चाहिए।

मकर (Capricorn)

मकर राशि का स्वामी ग्रह शनि है। इस राशिवालों को भस्म या काले रंग का तिलक लगाना शुभ होता है।

कुंभ (Aquarius)

कुंभ राशिवालों को हवन की राख का तिलक लगाना चाहिए। इसे आर्थिक संकट से छुटकारा मिलता है।

मीन (Pisces)

मीन राशि का स्वामी ग्रह बृहस्पति है। इस राशि के जातकों को पीले रंग का तिलक लगाना चाहिए।

डिसक्लेमर

‘इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।’

Posted By: Shailendra Kumar

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here