Updated: | Sat, 03 Jul 2021 02:40 PM (IST)

FD New Rule: बैंक में पैसे जमा करने के लिए FD सबसे बेहतरीन विकल्प है। इसमें सेविंग अकाउंट की तुलना में ज्यादा ब्याज मिलता है और शेयर मार्केट जैसा कोई रिस्क भी नहीं होता है। इसके साथ ही FD कराने पर अब कई बैंक तरह-तरह की सुविधाएं दे रहे हैं। कई बैंक लोन की सुविधा देते हैं तो कई बैंक क्रेडिट कार्ड और कई अन्य सुविधाएं भी देते हैं। यही वजह है कि आज के समय में लोग बड़ी संख्या में FD कराते हैं। इस बीच रिजर्व बैंक ने इससे जुड़ा एक अहम नियम बदल दिया है। अब FD के मैच्योर होते ही उसे क्लेम करना जरूरी है, वरना आपको नुकसान हो सकता है।

रिजर्व बैंक ने कहा है कि FD की मैच्योरिटी के बाद उसमें जमा पैसे पर पहले जैसे ब्याज नहीं मिलेगा। ऐसे में मैच्योरिटी के बाद भी पिक्स्ड डिपॉजिट का पैसा बैंक में रखने पर आपको नुकसान हो सकता है। इसकी बजाय अगर आपको पैसे की जरूरत नहीं है तो उसे फिर से नए FD अकाउंट में डाल सकते हैं।

क्या है रिजर्व बैंक का सर्कुलर

RBI ने एक सर्कुलर जारी कर कहा है कि FD के नियम की समीक्षा करने के बाद यह निर्णय लिया गया है कि अगर फिक्स्ड डिपॉजिट मैच्योर होती है और राशि का भुगतान नहीं हो पाता है। राशि का भुगतान न होने के साथ ही यदि खाताधारक ने अपना पैसा क्लेम नहीं किया है तो उस पर FD की दर से ब्याज नहीं मिलेगा। बल्कि उस पैसे पर बचत खाते की दर से या पहले से तय दर से पैसा मिलेगा। इन दोनों में से जो भी दर कम होगी उसके आधार पर बैंक आपके पैसे पर ब्याज देंगे। यह नियम सभी वाणिज्यिक बैंकों, स्मॉल फाइनेंस बैंक, सहकारी बैंक, स्थानीय क्षेत्रीय बैंकों पर लागू होगा।

FD मैच्योर होते ही क्सेम करें अपना पैसा

RBI के नए नियम के बाद बेहतर यही है कि आपकी FD मैच्योर होते ही आप अपना पैसा क्लेम कर दें। इसके बाद जैसे ही आपका पैसा आपको मिलता है, उसे कीसी जरूरी चीज में खर्च करें। अगर आपको पैसे की जरूरत नहीं है तो उसे फिर से नई FD में डाल सकते हैं। ऐसा करने पर आपको ज्यादा ब्याज मिलेगा।

FD पर मिलती हैं ये सुविधाएं

FD पर लोन के के अलावा कई अन्य सुविधाएं भी मिलती हैं। हालांकि अलग-अलग बैंक अपने हिसाब से इस रकम पर लोन देते हैं। कुछ बैंक 85 फीसदी तक तो कुछ बैंक 95 फीसदी तक का हिस्सा लोन को रूप में दे देते हैं। यही वजह है कि FD की तरफ ग्राहकों की रुचि बढ़ी है। साथ ही इस पैसे में बैंक को पता होता है कि ग्राहक कब अपना पैसा मांगेगा। इस वजह से वो बेफिकर हो कर वो पैसा कहीं भी लगा सकते हैं और मुनाफा कमाकर ग्राहकों को ब्याज भी दे सकते हैं।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 

Show More Tags



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here