|

नई दिल्ली, 29 नवंबर। मनुष्य की जन्मकुंडली में अनेक ऐसे ग्रह योग होते हैं जिनके कारण वह धनवान नहीं बन पाता है। यदि समय रहते और सही विश्लेषण से उन दरिद्र योगों का पता लगा लिया जाए तो उन दोषों को दूर करने के सटीक उपाय किए जा सकते हैं। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, जो जो ग्रहण नवमेश और पंचमेश से युत व दृष्ट नहीं होते वे अनेक प्रकार के दुख देते हैं। इसी तरह जो जो ग्रह अष्टमेश, षष्ठेश, व्ययेश और मारकेश से युत होते हैं वे भी अशुभप्रद होते हैं।

आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ दुर्योग

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here