Updated: | Wed, 30 Jun 2021 08:51 AM (IST)

Lord Ganesh: हिन्दू धर्म के अनुसार सप्ताह का हर दिन बेहद खास होता है। वहीं अगर बुधवार के दिन की बात करें तो यह दिन भगवान गणेश जी के लिए माना गया है। इस दिन अगर आप गणेश जी की पूजा-अर्चना करते हैं तो इससे आपको भगवान गणेश का अशीष प्राप्त होता है। जो लोग भगवान गणेश जी के भक्त होते हैं उनके लिए बुधवार का दिन बेहद खास होता है। इस दिन वे व्रत भी रखते हैं, मंदिर जाकर गणपति जी के दर्शन करते हैं और घर पर भी उनकी पूजा अर्चना करते हैं। यह तो हो गई उन लोगों की बात जो खास तौर पर गणेश जी के लिए ही पूजा-अर्चना करते है। लेकिन जब कोई मांगलिक कार्य की शुरूआत होती है तब भी सर्वप्रथम भगवान गणेश को पूजा जाता है।

ऐसा माना जाता है कि अगर बिना किसी गलती के भगवान गणेश को पूजा जाए तो वह जल्द ही अपने भक्तों से प्रसन्न हो जाते हैं, और उसके जीवन से सारे संकटों को दूर कर सुख-समृध्दि की स्थापना करते हैं। लेकिन इस बात का भी ध्यान रखें कि उनकी पूजा में की गई गलती बड़े आर्थिक नुकसान का सबब बन सकता है। अगर आप भी भगवान गणेश जी की पूजा करते हैं या करने की सोच रहे हैं तो सबसे पहले उन गलतियों के बारे में जान लें जो अंजाने में हो जाती हैं लेकिन उनका खामियाजा हमें भुगतना पड़ता है।

घर के पूजा स्थल में ही अगर आप भगवान गणेश जी की प्रतिमा की पूजा करते हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि उस जगह पर सिर्फ एक ही प्रतिमा स्थापित होना चाहिए। जब तक पहली प्रतिमा का विर्जन न हो जाए तब तक दूसरी प्रतिमा स्थापित करना पूरी तरह से वर्जित है।

भगवान गणेश जी की प्रतिमा को अगर आप किसी मंदिर में स्थापित कर रहे हैं तो उनको इस प्रकार से स्थापित करें कि उनकी पीठ न दिखे। क्योंकि अगर गणेश जी की पीठ दिखती है तो उस घर में गरीबी का वास होना शुरू हो जाता है।

भगवान गणेश जी की पूजा करने के दौरान इस बात का भी ध्यान रखें कि उन्हें भूल से भी तुलसी न चढ़ाएं, ऐसा करने से नुकसान हो सकता है। उन्हें हमेशा दूब चढ़ाई जाती है।

जब भी आप भगवान गणेश जी की पूजा करें तो इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि उनकी पूजा में लाल रंग भी शामिल हो। लेकिन भूल से भी काले रंग का इस्तेमाल मत कर लेना।

अगर घर में भगवान गणेश जी की स्थापना कर रहे हैं तो उनकी प्रतिमा को ध्यान से देखकर लाएं। इस बात का ध्यान रखें कि वह कहीं से टूटी-फूटी तो नहीं है और साथ ही बांए सूंढ वाली ही प्रतिमा स्थापित करें।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 

Show More Tags

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here