डिजिटल डेस्क, सियोल। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने शनिवार को बुजुर्गों के लिए बूस्टर शॉट्स को बढ़ाने का आह्वान किया। देश नए ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामलों सहित इसके फैलने से निपटने के लिए संघर्ष कर रहा है। कोरिया रोग नियंत्रण और रोकथाम एजेंसी (केडीसीए) के अनुसार, देश में बीते 24 घंटे में कोरोनावायरस के 6,977 नए मामले सामने आए जिससे कुल मामलों की संख्या बढ़कर 510,538 हो गई। योनहाप समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, गंभीर रूप से संक्रमितों की संख्या शनिवार को 856 हो गई, जो एक दिन पहले चार थी, जबकि बीते 24 घंटे 80 लोगों की मौत हो गई, जिससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 4,210 तक हो गई।

केडीसीए ने कोरोनावायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के 12 नए मामले सामने आए, जो कुल 75 तक पहुंच गए हैं। मून ने प्रधानमंत्री किम बू-क्यूम के साथ फोन पर बातचीत में कहा, कृपया क्षेत्रीय समुदायों में वरिष्ठों के लिए (बूस्टर शॉट इनोक्यूलेशन) तेज करने में ध्यान दें। मून ने किम से कहा कि वह जनता को वैज्ञानिक आंकड़ों के आधार पर युवाओं को टीकाकरण की आवश्यकता के बारे में बेहतर ढंग से समझाएं। अगले साल किशोरों के लिए वैक्सीन पास योजना का विस्तार करने की सरकार की योजना के खिलाफ बढ़ती सार्वजनिक प्रतिक्रिया के बीच ये फैसला लिया गया है। केडीसीए ने कहा कि देश की 5.2 करोड़ आबादी में से 83.6 प्रतिशत को कम से कम एक वैक्सीन की खुराक मिली है, जबकि 81.1 प्रतिशत को पूरी तरह से टीका लगाया गया है और 11.8 प्रतिशत ने अपने बूस्टर शॉट प्राप्त किए हैं।

सरकार की फरवरी 2022 से योजना है कि न केवल वयस्कों बल्कि 12 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों को भी सार्वजनिक अध्ययन कक्ष और स्कूलों सहित सभी जगहों पर कोरोना टीकाकरण या निगेटिव प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने की आवश्यकता है। नए वायरस के फैलने के बाद और छात्र संक्रमणों के बीच सख्त सभा प्रतिबंधों के साथ सरकार ने पिछले सप्ताह घोषणा की। लेकिन इसने छात्रों और अभिभावकों की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया दी और तर्क दिया कि यह उपाय नाबालिगों पर टीकाकरण कराने के लिए मजबूर करते हैं। सरकार ने सोमवार को कोरोनवायरस के तेजी से प्रसार और ओमिक्रॉन वेरिएंट को रोकने के लिए सख्त नियम लागू किए। नए उपाय 2 जनवरी, 2022 तक प्रभावी रहेंगे, जिसमें निजी सभाएं ज्यादा से ज्यादा सियोल क्षेत्र में छह और देश के बाकी हिस्सों में आठ लोगों तक सीमित हैं। अधिक व्यावसायिक सुविधाओं के लिए अब पर्याटकों को पूरी तरह से टीकाकरण या एक निगेटिव कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट दिखाने की जरूरत होगी। तथाकथित वैक्सीन पास सिस्टम में नए जोड़े गए रेस्तरां, कॉफी शॉप, क्रैम स्कूल और इंटरनेट कैफे शामिल हैं।

(आईएएनएस)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here