UIDAI ने पेंशनर्स के जीवन प्रमाण-पत्र जमा करने की बड़ी मुश्किल सॉल्‍व कर दी है। UIDAI ने पेंशनर्स के लिए FACE AUTHENTICATION सर्विस लॉन्‍च कर दी है। इसके जरिए कोई भी पेंशनर घर बैठकर अपने जीवित होने का प्रमाण दे सकता है। इसके लिए बाकायदा एक मोबाइल ऐप लॉन्‍च किया गया है। सरकार ने यह कदम ईज ऑफ सब्मिटिंग लाइफ सर्टिफिकेट अभियान के तहत उठाया है। इससे अब पेंशनर को बैंक या ट्रेजरी के चक्‍कर काटने की असुविधा नहीं झेलनी होगी। इसका नाम है, AadhaarFaceRd App

कैसे होगा फेस स्‍कैन स्‍टेप बाई स्‍टेप समझें

AadhaarFaceRd App को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करें।

आरडी सर्विस इंस्टाल होने के बाद यह सेटिंग में दिखाई देगी।

जीवन प्रमाण फेस एप्लीकेशन को https://jeevanpramaan.gov.in/package/download से डाउनलोड करें

एंड्रॉइड फेस ऐप के लिए क्लाइंट इंस्टॉलेशन डॉक्यूमेंट पर क्लिक करें।

आवश्यक जानकारी प्रदान करें -> मेल आईडी पर एक लिंक भेजा जाएगा -> लिंक पर क्लिक करें -> फइल डाउनलोड फोल्‍डर में डाउनलोड हो जाती है।

ऐप इंस्टॉल करने के लिए फाइल पर क्लिक करें

ऐप खोलें -> आवश्यक अनुमति दें-> इससे ऑपरेटर प्रमाणीकरण के लिए एक स्क्रीन खुलेगी-> आवश्यक जानकारी दें-> सबमिट करें-> ओटीपी दर्ज करें-> ऑपरेटर का चेहरा स्कैन होगा-> सही होने पर, पॉप-अप दिखाई देगा “क्लाइंट पंजीकरण सफल”।

ध्यान दें

1. ऑपरेटर प्रमाणीकरण एक बार की प्रक्रिया है।

2. पेंशनभोगी ऑपरेटर भी हो सकता है।

3. ऑपरेटर प्रमाणीकरण के बाद, पेंशनभोगी प्रमाणीकरण के लिए एक स्क्रीन खुलेगी।

4. एक ऑपरेटर कई पेंशनभोगियों का डीएलसी जनरेट कर सकता है।

पेंशनभोगी प्रमाणीकरण

– जरूरी ब्‍योरा भरें-> सबमिट करें-> ओटीपी दर्ज करें-> फिर सबमिट करें

स्क्रीन पर दिखाए गए ढंग के अनुसार सभी विवरण सही सही भरें, दोनों चेकबॉक्स पर क्लिक करें और सबमिट करें।

(नोट:- गलत जानकारी के कारण पेंशन वितरण कार्यालय में डीएलसी का अपडेशन नहीं हो सकता है)

चेकबॉक्स पर क्लिक करें और लाइव फोटोग्राफ के लिए स्कैन करें।

इस पॉप-अप विंडो में स्कैन प्रक्रिया जारी रखने के लिए “हां” चुनें।

चेकबॉक्स पर क्लिक करें और आगे बढ़ें।

फेस ऑथेंटिकेशन करते समय अपना चेहरा सीधा रखें और स्क्रीन पर दिखाए गए निर्देशों का पालन करें।

फेस स्कैनिंग के बाद मोबाइल स्क्रीन पर प्रमाण आईडी और पीपीओ नंबर के साथ डीएलसी सबमिशन दिखाई देता है।

अगर कोई क्‍वेरी हो तो dic.doppw@gov.in पर मेल करे।

Posted By: Navodit Saktawat

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here