Weather Update 29 November । पश्चिमी विक्षोभ के चलते देश के कई राज्यों में मौसम ने करवट ले ली है। मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि 30 नवंबर की रात से पहाड़ों में बर्फबारी और उत्तर-पश्चिम राज्यों व मध्य भारत में बारिश की संभावना है। इससे अलावा दक्षिण भारत में भी भारी बारिश के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त है। चेन्नई में भारी बारिश के कारण सड़कों पर नाव चलने जैसी स्थिति निर्मित हो गई है। महानगर के कई निचले इलाकों में पानीभर गया है।

2 दिसंबर तक भारी बारिश का अलर्ट

आईएमडी के रविवार को अलर्ट जारी करते हुए कहा कि 30 नवंबर से 2 दिसंबर तक गुजरात, उत्तरी महाराष्ट्र और दक्षिण-पश्चिम मध्य प्रदेश और दक्षिण राजस्थान के आसपास के इलाकों में व्यापक बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

गुजरात में हो सकती है भारी बारिश

IMD के मुताबिक गुजरात में 1 और 2 दिसंबर को भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। 1 दिसंबर को उत्तरी कोंकण में भारी बारिश की संभावना है। इसके अलावा एक या दो दिसंबर के दौरान पश्चिम मध्य प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश हो सकती है। वहीं 1 और 2 दिसंबर को जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, मुजफ्फराबाद में गरज और बिजली गिरने की संभावना है।

पूर्वी भारत में 5 दिसंबर तक हो सकती है बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। ओडिशा के लिए भी अलर्ट जारी किया गया है। राज्य में 2 दिसंबर से 5 दिसंबर तक बारिश की संभावना है।

तमिलनाडु में भारी बारिश, चेन्नई में स्कूल कॉलेज की छुट्टी

तमिलनाडु में भारी बारिश के कारण हालात बेकाबू है। चेन्नई में भी लगातार बारिश से हालात और खराब हो गए हैं। लगातार हो रही बारिश और जलजमाव के बाद आज से राजधानी चेन्नई के स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी घोषित कर दी गई है। चेन्नई जिला कलेक्टर डॉ. विजयरानी ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने तिरुमुलाइवोयल में गणपति नगर के बारिश प्रभावित इलाकों का दौरा किया और लोगों को राहत सामग्री वितरित की। चेन्नई में करीब 700 लोगों को राहत शिविरों में स्थानांतरित कर दिया गया और शहर के 108 इलाकों में 392 सड़कें जलमग्न हो गईं।

Posted By: Sandeep Chourey

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here