डिजिटल डेस्क, साउथेम्प्टन। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए भारत की 15 सदस्यीय टीम की घोषणा कर दी है। 15 सदस्यीय टीम में केएल राहुल, अक्षर पटेल, शार्दुल ठाकुर और मयंक अग्रवाल जैसे कुछ बड़े नाम नहीं हैं। फाइनल 18 जून से इंग्लैंड के साउथेम्प्टन में खेला जाएगा। ऐसा लग रहा है कि भारत छह बल्लेबाजों और पांच गेंदबाजों के साथ उतरेगा क्योंकि भारतीय स्पिनर अच्छे बल्लेबाज हैं और हरफनमौला के रूप में काम कर सकते हैं। 

डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए भारतीय टीम: 
विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), रोहित शर्मा, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), आर अश्विन, रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, उमेश यादव, रिद्धिमान साहा

कौन है जीत का प्रबल दावेदार?
बता दें कि भारत और न्यूजीलैंड के बीच 18 जून से वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेला जाना है। विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया का इस चैंपियनशिप के दौरान विदेशी जमीन पर रिकॉर्ड कीवी टीम से बेहतर रहा है। भारत ने डब्ल्यूटीसी पीरियड के दौरान तीन सीरीज घर से बाहर खेली जहां दो में उसे जीत मिली। टीम इंडिया को 2020 में न्यूजीलैंड में 0-2 से टेस्ट सीरीज में हार का सामना करना पड़ा था। 

वहीं इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज जीत के बाद कुछ लोग न्यूजीलैंड प्रबल दावेदार बता रहे हैं। कई पूर्व दिग्गज खिलाड़ी पहले भी इसे लेकर अपनी भविष्यवाणी कर चुके हैं। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने कहा, ‘भारत के खिलाफ विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में मेरे लिए न्यूजीलैंड प्रबल दावेदार हैं।’ 

न्यूजीलैंड के लिए इंग्लैंड का वातावरण भी उसे फायदा पहुंचा सकता है। ऐसा कहा जा रहा है कि इंग्लैंड में वातावरण न्यूजीलैंड के समान है। ब्रेट ली और ग्लेन टर्नर सहित कई पूर्व क्रिकेटर कह चुके हैं कि इंग्लैंड का वातावरण कीवी टीम को फायदा पहुंचा सकता है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here